Thursday, January 17, 2019

Petrol और Diesel कैसे बनता है, कहाँ से आता है, पूरी जानकारी

नमस्कार दोस्तो स्वागत है आपका मेरे आज के इस Blog के Post में तो दोस्तों आज में आपको बताऊंगा की Petrol और Diesel कैसे बनता है, कहाँ से आता है, पूरी जानकारी अगर आपके मन में भी कभी कभी ये सवाल आता है की ये आखिर Petrol और Diesel कैसे बनता है, कहाँ से आता है, और आप भी इसके बारे में नहीं जानते और इसको जानने के लिए बहुत उत्सुक है तो आप आज सही जगह पर हो क्योंकि आज में आपको बताऊंगा की Petrol और Diesel कैसे बनता है, कहाँ से आता है, तो फिर बिना देरी किये सुरु करते है की Petrol और Diesel कैसे बनता है, कहाँ से आता है। 
Petrol और Diesel कैसे बनता है, कहाँ से आता है, पूरी जानकारी
Petrol और Diesel कैसे बनता है, कहाँ से आता है, पूरी जानकारी

Petrol और Diesel आज हमारी सबकी ज़िंदगी का बहुत अहम हिस्सा बन गया है, आज के समय में तो दुनिया ने तरक्की कर ली है, पहले के समय में जो रोटी, पानी, कपडा, छोटा सा घर को ज़िंदगी  अहम और मूल जरुरत मन जाता था, उसमे अब पेट्रोल और डीज़ल को भी शामिल कर लिया गया है। आज के समय में हर गाड़ी पेट्रोल और डीज़ल से  कोई ही गाड़ी होगी जो पेट्रोल और डीज़ल से नहीं चलती होगी। आज के समय में बिना इन दोनों चीज़ों के सभी कारखाने मानो बंद हो जायेंगे। पेट्रोल और डीज़ल को गैर नवीनकरण संसाधन कहा जाता है, जिसका मतलब है की पेट्रोल और डीज़ल का भंडार सीमित है, यानि की ये कभी भी ख़त्म हो सकते है। तो फिर बिना देरी किये जल्दीसे देखते  है की पेट्रोल और डीज़ल बनते कैसे है।

Petrol कैसे बनता है? 

 पेट्रोल एक हाइड्रोकार्बन है, जिसे की कच्चे तेल से निकला जाता है, और ये जो कच्चा तेल है वो जमीन या समुंद्री सतह  के अंदर से निकला  जाता है,  यह कच्चा तेल जमीन के 1000  फ़ीट या उससे भी अंदर से निकला जाता है। और इसको खुदाई करके निकला जाता है।  कच्चा तेल कई प्रकार के Organic पदार्थो के मिश्रण होता है,इसके बाद इसे रिफाइनरी में भेजा जाता है, लेकिन सबसे पहले आंशिक आसवन के प्रक्रिया से बड़े अणुओ से छोटे अणुओ को अलग किया जाता है। और इसके लिए हम  600 डिग्री फारेनहाइट तक ऊष्मा  की जरुरत होती है, और इस पिरक्रिया से जो बड़े अणु होते है वो वास्प बनकर उड़ जाते है, और फिर गसोलिन प्राक्रतिक गैस और केरोसीन को अलग अलग कर लिया जाता है। और फिर बाद में रिफाइनिंग की प्रक्रिया होती है जिससे एल्युमीनियम जैसे कैटेलिस्ट का इस्तेमाल करके Chemically Change किये जाते हैं। और फिर इसमें से अणुओ को तोडा जाता है, और फिर उसके बाद में इसमें ऊपर से इसमें कुछ Chemical मिलाये जाते है जिससे की Petrol हमारे लिए सही से काम करे और फिर बाद में पेट्रोल बन कर तैयार हो जाता है।  

Diesel कैसे बनता है? 

डीज़ल का दूसरा नाम अगर आपको नहीं पता तो इसका दूर नाम है पेट्रो- डीज़ल क्योंकि इसे पेट्रोलियम से ही निकला जाता है। डीज़ल को भी बनाने के लिए कच्चे तेल की जरुरत पड़ती है, जोकि जमीन के अंदर से ही निकलना पड़ता है, कच्चे तेल के पदार्थो को भी पहले आसवन नामक प्रक्रिया से अलग किया जाता है, जिससे की गसोलिन,प्राक्रतिक गैस और केरोसीन अलग हो सके। इस प्रक्रिया से प्राप्त  यानि डीज़ल को कन्वर्शन नामक प्रक्रिया से गुज़ारा जाता है। जिसे कैटेलिस्ट की मदत से इसे भारी बनाया जाता है। और फिर ीउसके बाद पुरिफीकेसन की प्रक्रिया होती है, जहाँ पर डीज़ल को सल्फर से अलग किया जाता है, और फिर इसके बाद में डीज़ल इस्तेमाल करने के लिए तैयार हो जाता है। 

Conclusion-

मुझे उम्मीद है की आपको मेरी ये पोस्ट Petrol और Diesel कैसे बनता है, कहाँ से आता है, पूरी जानकारी जरूर पसंद आई होगी। मेरी हमेशा से ही यही कोशिस रही है की Readers को Petrol और Diesel कैसे बनता है, कहाँ से आता है, पूरी जानकारी के बारे मैं पूरी से पूरी जानकारी मिले , जिससे की उन्हें किसी और site या कहि और जाकर ये प्र्शन न करना पड़े की आखिर Petrol और Diesel कैसे बनता है, कहाँ से आता है, पूरी जानकारी इससे उनके समय की बचत तो होगी ही होगी और वो घर बैठे हमसे कुछ भी या किसी चीज़ के बारे मैं भी जानकारी ले सकते हैं बिना संकोच के यदि आपके मन मैं Post को लेकर कोई भी Doubt है तो हमे बिना झिझक के Comment मैं बताये या फिर मेल करे निचे दिए गए Contact Us पर क्लिक करके-

तो मेरे मेहरबान कदरदान बुड्ढे बच्चे नौजवान आज हमने आपको बताया की Petrol और Diesel कैसे बनता है, कहाँ से आता है, पूरी जानकारी?
और  अगर आपका कोई सवाल जवाब या सुझाव हो तो हमे निचे Comment करके तो बताना ही बताना है-

तो दोस्तों अंत मै आपको पता ही होगा बस इतना ही कहना  चाहूंगा की 

तो दोस्तों अगर आपको ये Post  अच्छी लगी तो हमे जरूर Follow  करना और हमारी Notification को भी जरूर Allow करना।

Thank You For Visit Us 


Wednesday, January 16, 2019

Rupay, MasterCard, Visa में क्या अंतर् है?

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका मेरे आज के इस Blog के Post में तो दोस्तों आज में वैसे तो बताऊंगा की Rupay, MasterCard, Visa में क्या अंतर् है? सायद आपके पास भी इन तीनोCards में से एक Card जरूर  सोचते होंगे की Rupay, MasterCard, Visa में क्या अंतर् है? तो आज मैं इन तीनो के अंतर् के बारे में बताने जा रहा हु, अगर आप भी जानना चाहते है की इन तीनो में क्या अंतर् है तो बिना देरी किये जल्दी से सुरु करते है।

Rupay, MasterCard, Visa में क्या अंतर् है?
Rupay, MasterCard, Visa में क्या अंतर् है?


तो दोस्तों आज के दौर में India में काफी Plastic Money का उपयोग बढ़ा जा रहा है, प्लास्टिक मनी मतलब है की आपका ये Debit Card, Credit Card, और भी इत्यादि। अगर आपने कभी गौर किया हो तो इन Card के कोनो पर Rupay,Master, या फिर Visa लिखा रहता है लेकिन ये आता क्या है, तो इस Article में आगे चल कर हम यही बात करेंगे की Rupay, MasterCard, Visa में क्या अंतर् है? और हमारे लिए कोन-सा Card ज्यादा फायदेमंद है।

दोस्तों जब भी आप किसी Shop से कुछ भी सामान खरीदते हो तो, बाद में आप एक Machine में अपने Card को इस्तेमाल करते होंगे, आप उनको Payment POS यानि (Point Of  Sell) मशीन के द्वारा करते हैं। लेकिन जबकि आपको ये पता नहीं होता की जिसे आप Payment कर रहे हो उसका Bank Account कोण से Bank  में है या उसका खाता नंबर क्या है, तो  यही Payment पूरा करने के लिए Visa, Mastercard जैसे कम्पनी का योगदान।
 ये हमे एक Multinational Financial Service देती है, जिससे की हम दुनिया के किसी भी बैंक से किसी भी बैंक में रूपए Transfer कर सकें। लेकिन सबसे पहले ये Banks से समझौता कर लेती है जिससे की ये Bank के Network को एक्सेस कर पाये।

MasterCard क्या है?

 Master Card जो है ये Mastercard Incorporated के अंतर्गत आता है, और यह एक अमेरिकन Multinational Financial Service Corporation जिसका Global Headquarter New York, और United State में है,  इसकी स्थापना 1979 में Inter Bank Transaction के लिए हुई थी। शुरुआती समय में ये सिर्फ अमेरिकन बैंको में हुए Financial Services को देखती थी। अभी ये 160 देशो में Serve करती हैं। इसके अंतर्गत इसके और भी Cards प्रसारित किये गए है जैसे की, Mastro Card, Cirrus Card इत्यादि। इन Cards को अलग अलग टाइप के लिए  इस्तेमाल किया जाता है जैसे की Debit Card के लिए Mastro Card और Credit Card के लिए Cirrus Card . 

Visa Card क्या है?

  Visa Card भी बिलकुल Master Card की तरह होता है, और इसका Headquarter Foster City, California, United States, में है। दुनिया भर में कई देशो में जारी किये गए Visa का Debit Card एक प्रमुख Brand है। कई Bank संसथान अपने Customers को उनके Bank Account तक पहुंचने के लिए भी Offer करते हैं। 

Rupay Card क्या है?

Rupay Card भी Master और Visa की तरह है लेकिन जहाँ पर Visa और Mastercard International Service देता है वहां उस जगह पर Rupay सिर्फ घेरलू यानि Domestic Service तक ही सिमित  है। मतलब की इसे सिर्फ India में ही इस्तेमाल किया जा सकता है नाकि India के बहार देश में

तीनो में क्या अंतर् है? 

अगर हम बात करें की इन तीनो में क्या अंतर् है, तो वैसे तो इन तीनो में ज्यादा अंतर् तो है नहीं लेकिन ये दोनों ही बैंक इंटर बैंक Transaction और POS Transaction के काम आते हैं।  लेकिन अगर हम बात करें बड़े अमाउंट पर Transaction करना हो तो Rupay Card का इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं। क्यों की इसकी कुछ Limitation के साथ साथ ही हम रूपए के आलावा किसी दूसरी मुद्रा में Payment नहीं कर सकते हैं। लेकिन Master Card की अपक्षा Visa Card  बहुत सी सुविधा देता है। 

सबसे अच्छा Card कोन-सा है?

आपके मन में जरूर ये सवाल आता होगा की इन तीनो Cards में से कोन-सा Card सबसे अच्छा है। लेकिन इसका जवाब सिर्फ एक ही है और वो है की ये आपके ऊपर निर्भर करता है की आप Card को किस काम के लिए इस्तेमाल करते हो, कितना इस्तेमाल करते हो, कहां कहां करते हो। तो आपको कोई भी कार्ड मिले इससे कोई फरक नहीं पड़ता है 

अगर हम बात करें Rupay Card की तो अगर आप इस कार्डको सिर्फ भारत में इस्तेमाल करते हो तो ये आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है, क्योंकि ये भारत में बहुत तेज़ी से अपना काम करता है, और  आपको इसके लिए Processing Fee भी कम देनी पड़ेगी। और इसमें आपका डाटा भी Safe रहेगा क्योंकि ये सिर्फ भारत के  लिए है तो इसे कोई भी यानि भारत के आलावा देश जो है उनसे आपका डाटा सेफ रहेगा। 

अगर आपको भारत के बहार देश में ट्रांसक्शन करना होता है तो आपके लिए सबसे बढ़िया कार्ड्स मास्टर और वीसा क्योंकि Rupay सिर्फ भारत के अंदर Valid है नाकि किसी और देश में। अगर हम बात  करें की आपके लिए Master और Visa में से कोन-सा Card सबसे अच्छा है, तो इन दोनों में सबसे ज्यादा फायदेमंद Visa कार्ड है। 


Conclusion-

मुझे उम्मीद है की आपको मेरी ये पोस्ट Rupay, MasterCard, Visa में क्या अंतर् है? जरूर पसंद आई होगी। मेरी हमेशा से ही यही कोशिस रही है की Readers को Rupay, MasterCard, Visa में क्या अंतर् है? के बारे मैं पूरी से पूरी जानकारी मिले , जिससे की उन्हें किसी और site या कहि और जाकर ये प्र्शन न करना पड़े की आखिर Rupay, MasterCard, Visa में क्या अंतर् है? इससे उनके समय की बचत तो होगी ही होगी और वो घर बैठे हमसे कुछ भी या किसी चीज़ के बारे मैं भी जानकारी ले सकते हैं बिना संकोच के यदि आपके मन मैं Post को लेकर कोई भी Doubt है तो हमे बिना झिझक के Comment मैं बताये या फिर मेल करे निचे दिए गए Contact Us पर क्लिक करके-

तो मेरे मेहरबान कदरदान बुड्ढे बच्चे नौजवान आज हमने आपको बताया की Rupay, MasterCard, Visa में क्या अंतर् है?
और  अगर आपका कोई सवाल जवाब या सुझाव हो तो हमे निचे Comment करके तो बताना ही बताना है-

तो दोस्तों अंत मै आपको पता ही होगा बस इतना ही कहना  चाहूंगा की 

तो दोस्तों अगर आपको ये Post  अच्छी लगी तो हमे जरूर Follow  करना और हमारी Notification को भी जरूर Allow करना।

Thank You For Visit Us 


Monday, January 14, 2019

UPI Kya Hai, Aur Kese Kaam Karta Hai हिंदी में

नमस्कार दोस्तों  स्वागत है आपका मेरे आज के इस Blog के Post में तो दोस्तों आज मैं आपको बताऊंगा की UPI Kya Hai, Aur Kese Kaam Karta Hai हिंदी  में आपने सायद ये नाम काफी बार सुना होगा लेकिन आप इस चीज़ को पूरी तरीके से जानते नहीं होंगे अगर आप भी UPI Kya Hai, Aur Kese Kaam Karta Hai हिंदी  में जानना चाहते  हैं तो आज आप बिलकुल सही जगह पर हो तो आज के इस अर्टिकल मे मैं आपको बताऊंगा की UPI Kya Hai, Aur Kese Kaam Karta Hai हिंदी  मे, UPI का इस्तेमाल कैसे करें, UPI काम कैसे करता है, List Of UPI Enabled Banks, UPI के FAQs...  तो बिना देरी किये सुरु करते हैं,
 
UPI Kya Hai, Aur Kese Kaam Karta Hai हिंदी  में
UPI Kya Hai, Aur Kese Kaam Karta Hai हिंदी  में

अगर  आपको याद हो की जब हमारे देश के प्रधान मंत्री जी यानि नरेंद्र मोदी जी ने नोटबंदी की थी तो उस समय Cash की बहुत समस्या थी, और जाहिर सी बात है की इससे रिश्वत खोरों के पसीने छूट गए थे, लेकिन इसके साथ साथ आम इंसान को भी काफी तकलीफ का सामना करना पड़ा था। और इसी परेशानी का समाना करने के लिए नरेंद्र मोदी जी ने हमे यह सुझाव दिया,  की अब हम सबकी Cashless Economy को बढ़ावा देना चाहिए। Cashless Economy का मतलब है की अब हाथो का लेन देन को छोड़ कर हमे Online Payment करनी चाहिए।

अब बात ये आती है की हम Online Payment करें तो कैसे करें, आपको बहुत सरे Apps देखने को मिल जायँगे जिनके जरिये हम लोग Online Money Transfer कर सकते हैं, आपको Google Play Store पर बहुत से Apps मिल जायेंगे जैसे की, Paytm, Mobiwik, Google Pay/Tez, etc. इनके आलावा आपको और भी बहुत साडी Apps मिल जायँगी। और इन सबके आलावा एक और जरिया है जिसकी मदत  से हम लोग आसानी से Mobile Banking कर सकते है, और उसका नाम है UPI.

UPI क्या है?

अगर हम लोग बात करे की UPI का पूरा नाम क्या है तो UPI का पूरा नाम है Unified Payments Interface ये जो है एक ऐसा तरीका है जिसकी मदत से आप और हम कहीं से भी अपने बैंक खाता द्वारा पैसे का लेन देन कर सकते हैं, इससे आप और हम लोग किसी भी  तरीका का Payment कर सकते है जैसे की Online Shopping, Ticket etc. और इससे Payment बिलकुल Fast Way मै होता है। और आपको मान के चलिए अपने खाते से दुसरे के बैंक खाते में रूपए Transfer करने है तो आप ये भी कर सकते है वो भी बहुत Fast तो ये बहुत बड़ा फायदा है UPI का। 
और ये UPI को सुरु करने की पहल जो की है वो की है NPCI ने इसका मतलब है National Payments Corporation Of India और ये वो संस्था है जो Manage करती है सभी भारत के सभी Bank के ATM कार्ड को और उनके बिक रह, Interbank Transaction को, जैसे की मान लीजिये की आपके पास PNB का ATM कार्ड है तो आप SBI के ATM से पैसे निकल सकते है। इन सभी Banks के बीच में हो रही Transaction का  NPCI ही ध्यान रखती है।  ठीक उसी प्रकार UPI का हिसाब है, जिसकी मदत से आप Online Money Transfer कर सकते है।

UPI का उपयोग कैसे करें?

 UPI को उपयोग करने के लिए आपको सबसे पहले अपने Smartphone में इसके Apps को Download करना होगा, बहुत सरे Bank के Apps है जो की UPI को Support करते है, जैसे की ICICI Bank, Axis Bank इत्यादि, Install करने के लिए आपको Google Play Store पर जाकर आपका जिस Bank में Account है उस Bank का App खोज कर उस App को Install करना होगा, Install करने के बाद उसे App में Sign in करना होगा,फिर वहां पर अपने Bank का Details देकर अपना Account बना लीजिये, फिर आपको एक Virtual ID मिल जायगी, वहां पर आप अपनी ID Generate कर लीजिये, ID या तो आपके Phone  का नंबर हो सकता है या फिर आधार कार्ड का नंबर यानि की कुछ भी हो सकता है, बस फिर इतना  हो जाने के बाद आपका काम ख़त्म हो जायगा, आपका UPI में Account बन जाने के बाद आप पैसे का लेंन देंन कर सकते हैं। 

UPI के Enabled Banks की List?

1. State Bank Of India 
2. ICICI Bank
3. Kotak Mahindra Bank
4. HDFC
5. Axis Bank
6. Andhra Bank
7. Bank Of Maharashtra
8. Canara Bank
9. DCB
10. Fedral Bank
11. Catholic Syrian Bank
12. Karnataka Bank
13. PNB
14. Sounth Indian Bank
15. UCO Bank
16. Union Bank Of India
17. Vijaya Bank
18. OBC
19. TJSB
20. RBL Bank
21. IDBI Bank
22. Yes Bank
23. IDFC 
24. Allahabad Bank
25. HSBC
26. Bank Of Baroda
27. Indusland
28. Standard Chartered Bank
29. Union Bank Of India

लगभग सभी Banks में UPI Enable है, तो आप किसी भी Bank का इस्तेमाल कर सकते हैं। 

UPI FAQs-

1.  सबसे अच्छा UPI App-
 Google Play Store पर काफी अच्छे अच्छे Apps हैं जोकि की बहुत अच्छा काम करते है आप कोई सा भी App जाकर Install कर सकते हैं।

2. ये क्यों जरुरी है की User सिर्फ अपने Bank  UPI App Install करें?
ये जरुरी नहीं है की User सिर्फ अपने Bank का ही App Install करे, कॉपी सा भी कर सकता है।

3. UPI PIN क्या होता है?
 यह एक ऐसा PIN होता है, जिसे की Registration Process के दौरान Set किया जाता है और इससे सरे UPI Transaction को Authorize किया जाता है।

4. User रुपयों का Transfer Bank Holidays में कर सकता है। 
जी है, बिलकुल कर सकता है।

5. अगर कभी User को Complain करना पड़े तो?
आप Complain भी UPI App में ही कर सकते है उसके लिए आपको अलग से एक Option दिया रहता है।

Conclusion-

मुझे उम्मीद है की आपको मेरी ये पोस्ट UPI Kya Hai, Aur Kese Kaam Karta Hai हिंदी  में जरूर पसंद आई होगी। मेरी हमेशा से ही यही कोशिस रही है की Readers को UPI Kya Hai, Aur Kese Kaam Karta Hai हिंदी  में, के बारे मैं पूरी से पूरी जानकारी मिले , जिससे की उन्हें किसी और site या कहि और जाकर ये प्र्शन न करना पड़े की आखिर UPI Kya Hai, Aur Kese Kaam Karta Hai हिंदी  में, इससे उनके समय की बचत तो होगी ही होगी और वो घर बैठे हमसे कुछ भी या किसी चीज़ के बारे मैं भी जानकारी ले सकते हैं बिना संकोच के यदि आपके मन मैं Post को लेकर कोई भी Doubt है तो हमे बिना झिझक के Comment मैं बताये या फिर मेल करे निचे दिए गए Contact Us पर क्लिक करके-

तो मेरे मेहरबान कदरदान बुड्ढे बच्चे नौजवान आज हमने आपको बताया की UPI Kya Hai, Aur Kese Kaam Karta Hai हिंदी  में

और  अगर आपका कोई सवाल जवाब या सुझाव हो तो हमे निचे Comment करके तो बताना ही बताना है-

तो दोस्तों अंत मै आपको पता ही होगा बस इतना ही कहना  चाहूंगा की 

तो दोस्तों अगर आपको ये Post  अच्छी लगी तो हमे जरूर Follow  करना और हमारी Notification को भी जरूर Allow करना।

Thank You For Visit Us 


Friday, January 11, 2019

Internet क्या है, कैसे काम करता है- जानिए विस्तार में

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका मेरे आज के इस Blog के Post मैं तो दोस्तों आज मैं आपको बताऊंगा की आखिर Internet क्या है, कैसे काम करता है- जानिए विस्तार में, आप मैं से बहुत लोग Internet Use करते होंगे करते होंगे क्या करते ही हैं, अगर आप इस आर्टिकल को पढ़ रहे है तो मतलब आप Internet ही तो चला रहे हैं, तो अपने कभी सोचा है की Internet कैसे चलता है कोण है इसका मालिक अगर आप ये सब जानना चाहते हैं तो आज आप सही जगह पर हो तो बिना देरी किये फिर  हम आज का अपना ये आर्टिकल सुरु करते हैं।

Internet क्या है, कैसे काम करता है- जानिए विस्तार में
Internet क्या है, कैसे काम करता है- जानिए विस्तार में

 

आखिर Internet है क्या?

Internet (International Network Of Computer) मतलब की दो या दो ये ज्यादा Computers का Connection आपस मैं होना, हम और आप लोग Internet से दनिया की किसी भी जानकारी को हासिल कर सकते है जैसे की आपने Search किया की Internet क्या है, कैसे काम करता है- जानिए विस्तार में और फिर क्या Result आपके सामने है।  ये बात उस समय की है जब 1969 मैं इंसान ने चंद्र पर कदम रखा था, तब US के कार्यालय ने ARPA को नियुक्त किया था मतलब (Advance Resaerch Project Agency). उस समय सिर्फ चार Computers का Network बनाया गया था, जिसमे की उन्होंने Data  Exchange और Share किया था, और फिर बाद मैं इसे कई और एजेंसी के साथ जोड़ लिया गया था, बाद मैं ये धीरे धीरे बढ़ने लगा और फिर ये धीरे धीरे आम लोगों तक भी पहुंचने लगा। 

अब अगर हम बात करें की ये आपके अपने भारत मैं कब आया था ये भारत मैं आया था 15 August 1995 और इसकी भारत मैं सबसे पहले BSNL जोकि एक सरकारी कम्पनी है उसने भारत मे सबसे पहले Internet के शुरुआत की थी।

Internet आखिर चलता कैसे है?

अगर आप में से कुछ लोग ये सोच रहे हैं की हमारे उप्पेर कोई भगवान है या कोई देवता है जो इस काम को करते है मतलब Internet चलाने का तो आप बिलकुल गलत सोच  रहे हैं, और न ही Internet हमारे द्वारा छोड़े गए उपग्रह से चलता है, है चलता था लेकिन अब ये Technique बहुत पुराणी हो गयी है। और इससे Data भी बहुत Slow Load होता था। लेकिन आज हमारे भारत के इंजीनियर ने ऐसे ऐसे Techniques Develop की है जिसे की हम लोग Fast Internet की मौज ले पा रहे हैं। और ये जो Technique है उसका नाम है Optical Fibre Cable-

Internet क्या है, कैसे काम करता है- जानिए विस्तार में
Internet क्या है, कैसे काम करता है- जानिए विस्तार में


अगर आप लोग नहीं जानते तो अब जान ले की समुन्द्र मैं आठ लाख किलोमीटर से भी ज्यादा लम्बी Optical Fibre Cable बिछाय गए हैं। जिससे की हमारे Internet का 90% इस्तेमाल होता है। और समुन्द्र मैं व्ही Cable बिछाये जाते है जिनमे कम लागत के साथ साथ कम नुकसान हो। 

क्योंकि Cable को समुन्द्र मैं बिछाया जाता है जिसमे की एक से एक बड़े जहाज चलते हैं, और कभी कभी तो जहाज के लंगर से भी Optical Cable का नुकसान हो जाता है, और ऐसा ही कुछ किस्सा Egypt मैं 13 January 2008 को हुआ था,जिसके कारन Egypt का 70% Internet बंद हो गया था।
लेकिन इस समस्या के साथ साथ इस का समाधान भी किया गया है,ऐसी कई Team बनाई गयी है जोकि इसकी 24 घंटे निगरानी करती हैं। अगर इसमें Cable मैं कोई भी खराबी हो जाती है तो वो टीम इस खराबी को जल्द से जल्द ठीक कर देती है।

अब मैं आसा करता हु की आपको पता चल गया होगा की 90% Internet कहा से चलता है लेकिन 10% कहा से चलता है। ये 10%ऐसी ख़ुफ़िया एजेंसी  के द्वारा एक्सेस किया जाता है जोकि उपग्रह से चलता है, लेकिन इस Internet को हम जैसे आम लोग एक्सेस नहीं कर सकते हैं।

Internet काम कैसे करता है?

 आज कल के दौर मैं हम सभी लोग इंटरनेट इस्तेमाल करते है लेकिन  होता है की Internet काम कैसे करता है, लेकिन इसे समझने के लिए हमे इसके तीन हिस्से करने होंगे, तो फिर बिना देरी किये जल्दी देख लेते है,

1. पहला है Server जिसमे की दुनिया की सभी जानकारी Save रहती हैं,
2. दूसरा है Internet Service Provider जैसे की (Airtel, Idea, Reliance) etc. जो हमे Server से जानकारी भेजती हैं,
3. और तीसरा है आपका अपना Computer या Mobile का Browser जिसमे हम जानकारी Search करते हैं।

Procedure 

जब भी हम लोग कुछ भी जानकारी लेने के लिए अपने Browser मैं Search करते है, तो ये सबसे पहले Request अपने Service Provider के पास जाती है, और ये Net Provider, Server पर Search करता है। इसके बाद Server उस जानकारी जो आपने सर्च की है उसे Internet Provider को भेजता है। और फिर बाद मैं Internet Provider उस जानकारी को हमे भेजता है। 

और आप अंदाज़ा लगा सकते है की यह विधि कितने Fast होती है जो हमे कुछ ही Seconds मैं अपना Result देती है।


Conclusion-

मुझे उम्मीद है की आपको मेरी ये पोस्ट Internet क्या है, कैसे काम करता है- जानिए विस्तार में ? जरूर पसंद आई होगी। मेरी हमेशा से ही यही कोशिस रही है की Readers को Internet क्या है, कैसे काम करता है- जानिए विस्तार में , के बारे मैं पूरी से पूरी जानकारी मिले , जिससे की उन्हें किसी और site या कहि और जाकर ये प्र्शन न करना पड़े की आखिर Internet क्या है, कैसे काम करता है- जानिए विस्तार में , इससे उनके समय की बचत तो होगी ही होगी और वो घर बैठे हमसे कुछ भी या किसी चीज़ के बारे मैं भी जानकारी ले सकते हैं बिना संकोच के यदि आपके मन मैं Post को लेकर कोई भी Doubt है तो हमे बिना झिझक के Comment मैं बताये या फिर मेल करे निचे दिए गए Contact Us पर क्लिक करके-

तो मेरे मेहरबान कदरदान बुड्ढे बच्चे नौजवान आज हमने आपको बताया की Internet क्या है, कैसे काम करता है- जानिए विस्तार में?

और  अगर आपका कोई सवाल जवाब या सुझाव हो तो हमे निचे Comment करके तो बताना ही बताना है-

तो दोस्तों अंत मै आपको पता ही होगा बस इतना ही कहना  चाहूंगा की 

तो दोस्तों अगर आपको ये Post  अच्छी लगी तो हमे जरूर Follow  करना और हमारी Notification को भी जरूर Allow करना।

Thank You For Visit Us 


Thursday, January 10, 2019

Debit Card VS Credit Card- हिंदी मैं पूरी जानकारी

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका मेरे आज के इस Blog के Post मैं तो दोस्तों आज मैं आपको बताऊंगा की Debit Card VS Credit Card- हिंदी मैं पूरी जानकारी आपने ये नाम पहले तो बहुत सुने होंगे लेकिन आपको पता नहीं होगा गहराई से की आखिर Debit Card VS Credit Card- आखिर क्या हैं तो दोस्तों आज मैं आपको इन दोनों के अंतर् के बारे मैं बताऊंगा और ये दोनों आखिर है क्या इस बारे मैं भी क्योंकि अब से पहले मैं भी नहीं जानता था की ये दोनों क्या है किस काम आते हैं, इनमे क्या अंतर् है, तो इसलिए मैंने सोचा की आपको  की आखिर ये Debit Card VS Credit Card- हिंदी मैं पूरी जानकारी तो फिर बिना देरी किये जल्दी से सुरु करते हैं।


Debit Card VS Credit Card- हिंदी मैं पूरी जानकारी
Debit Card VS Credit Card- हिंदी मैं पूरी जानकारी
वैसे अगर देखा जाये या फिर सोचा जाये तो नवम्बर के महीने मे जब नोटबंदी हुई थी तो उस समय Cash की बहुत जरुरत थी क्योंकि रोज़ाना  कुछ न कुछ जरुरी काम का सामान की जरुरत पड़ती थी लेकिन उस टाइम Cash की लोगों को बहुत समस्या हुई थी। तो उस दौरान Cash की समस्या से बचने के लिए के लिए सरकार ने Digital पेमेंट को बहुत ही जोरो सोरो से बढ़ावा दिया था, और पब्लिक/जनता ने भी इस नयी Techniqe को खूब बखूबी अपनया था, और इससे लोगों या फिर जनता का बहुत फायदा भी हुआ अब Cash जेब मैं रखने से अच्छा है की Digital पेमेंट करें और किस्सा ख़त्म कहीं से  भी बैठे बैठे Shopping करो वो भी Cashback के साथ।

Digital पेमेंट करने के लिए जो सबसे जरुरी चीज़ है वो है आपका Bank का खाता, अगर किसी बंदे का Bank मैं खता नहीं है तो वो तो इस पिरक्रिया से दूर ही रहे क्योंकि वो बिना Bank Account के इस सुविधा को नहीं अपना सकता। क्योकि इस Payment के लिए पैसे आपके Bank से काटे जाते है जब आप कोई भी Transaction करते है।  और खाता  खुलवाने के बाद Bank आपके लिए एक Plastic Card की सुविधा देता है। जिसका इस्तेमाल आप ATM Machine से कर सकते है और उस Plastic Card को हम ATM Card बोलते हैं या फिर Debit Card भी कह सकते हैं।

हम Debit Card का इस्तेमाल Online Transaction के लिए भी कर सकते है, और इस Card के आलावा हमे एक और Card दिया जाता है जिसका भी इस्तेमाल हम लोग Online Transaction के लिए कर सकते है। और उसे हम लोग Credit Card के नाम से जानते है इन दोनों  Cards का इस्तेमाल हम लोग एक ही काम के लिए करते हैं।

लेकिन सवाल यह उठता है की जब हम लोग इन दोनों Cards से एक ही काम करते हैं तो Bank खुजली हुई की हमे एक ही तरह के दो दो Cards बना के दे।  तो अब थोड़ी ही देर मैं हम लोग इन दोनों Cards के अंतर्  बात करने वाले हैं।

 मैं आशा करता हु की अब तक मैंने जो आपको बताया वो सारी चीज़ें आपको समझ आ गयी होंगी अब हम इन दोनों के अंतर् के बारे मैं बात करने वाले है अगर आप इन दोनों के अंतर् के बारे मैं जानते हैं तो बहुत ही अच्छी बात है और अगर नहीं जानते हैं तो आराम से इसे आखिर तक पढ़ते रहे।

आखिर Debit Card है क्या?

जब भी हम लोग जनता पार्टी Bank मैं अपना खाता खुलवाते है तो Bank हमे एक Debit Card देता है, जोकि हमारे Bank Account से Link रहता है। जिसकी मदत से हम लोग ATM Machine से पैसे निकल/जमा कर सकते हैं, या फिर Online Transaction और Shopping जैसी भी चीज़ें कर सकते हैं। ऐसी ही नहीं और भी बहुत से काम है जो  Debit Card के मदत से कर सकते है।  तो वहां पर आपको अपने Card का PIN देना होता है जो की चार अंको का होता है। उस PIN को Enter करने के बाद आप जो भी काम कर रहे होते हैं वो Successfullly Done हो जाता है। और  यही वजह है ATM Card हमे देने की हम कही से भी कहीं के लिए भी बैठे,लेटे,सोते,नहाते  कही भी रूपए भेज सकते है या Shopping कर सकते हैं। 

Debit Card होते कितने प्रकार के?

Bank जो है अपने ग्राहकों के लिए Debit Card की सुविधा देने के लिए Debit Card Service Provider Companies के साथ जुड़ता है, जो Bank को Debit Card Provide करती हैं, जैसे की-

1. Visa Debit Card 
2. MasterCard Debit Card 
3. Rupay Debit Card 
4. Maestro Debit Card 

आखिर Credit Card है क्या?

 लेकिन "Credit Card" भी  Debit Card की तरह किसी Bank Account से Link नहीं रहता है बल्कि ये Card आपको किसी Bank या Financial Instution से मिलता है जो लोगों या अपनी जनता को Loan प्रदान करते हैं।  यानि की इसका मतलब है जो लोगो को पैसे उधार देते हैं। और जो पैसे आप उधार लेते है उसी के बदले मैं कुछ Percent Interest Rate उनसे भुगतान के समय लेते है। Credit Card का इस्तेमाल भी हम लोग Online Transaction के लिए करते है लेकिन हम लोग ATM मशीन से Credit Card के द्वारा रूपए नहीं निकल सकते,  अब आया कुछ अंतर् समझ मैं 

Credit Card से जो हम लोग पैसे इस्तेमाल करते है उसकी एक Limit होती है, जब Bank आपको Credit Card प्रदान करता है तो उसने पहले से ही उसकी Limit Set कर रखी होती  है जैसे की एक महीने के लिए एक लाख रूपए तक की Limit हो सकती है। और कुछ Cards मैं तो Limit बहुत काम होती है। और यह निर्भर करता है आपके Bank Account Performance पर यानि की आपकी Income देखकर यह नहीं की, आमदनी अट्ठनी खर्चा रुपया। जिससे की आप लोग Loan को चुकाने की छमता रख सके। 

आप इस Limit के अंदर Credit Card से पैसे खर्च कर सकते हैं। महीने की आखिरी मैं या फिर जब भी Bank आपको कोई तारिख देगा की आपको आपने Credit Card से खर्च किये रूपए इस तारिख तक चुकाने हैं। अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो आपको जुरमाना भी भरना पड़ता है। 

Credit Card कितने प्रकार के होते हैं?

आज कल लगभग सभी Bank आपको Credit Card provide करते हैं। और ये भी कई प्रकार के होते हैं जैसे की-

1.  Visa Credit Card
2.  American Express Credit Card
3.  British Airway Classic Credit Card
4.  Carbon Credit Card

Debit Card VS Credit Card- क्या अंतर् है दोनों मैं?

अब तो मैं आशा करता हु की आपको समझ आ गया होगा की आखिर Debit Card VS Credit Card- क्या है और थोड़ा बहुत तो इनके अंतर् के बारे मैं पता चल गया होगा, अगर नहीं पता चला तो अब पता चल जायगा कोई ऐसी बात नहीं है तो फिर बिना देरी किये सुरु करते हैं। 

1. सबसे पहला जो अंतर् है वो है की जो आपका Debit Card होता है वो आपके Bank के Checking और Savings Account से जुड़ा हुआ रहता है, लेकिन Credit Card आपके किसी भी Bank Account से जुड़ा हुआ नहीं रहता है। 

2. Debit Card से तो आप जितना चाहे उतना रुपया खर्च कर सकते है तब तक, जब तक आपका Bank  का Balance लुल्ल यानि जीरो न हो जाये, लेकिन Credit Card मैं आप उतने ही रूपए खर्च कर सकते है जितने की आपको Limit दी गयी है Bank द्वारा। 

3.  आपने एक बात गौर की नहीं की तो कोई बात नहीं वो बात ये है की Debit Card तो सबके पास होता है लेकिन Credit Card क्यों नहीं, वो इसलिए की Bank मैं खाता खोलने पर Debit Card तो आपको मिल जाता है, लेकिन Credit Card के लिए बैंक में अलग से Apply करना पड़ता है, और बैंक आपका Monthly Salary देखने के बाद और व्यापर देखने के बाद आपको Credit Card देने के लिए Approve होता है। 

4.  Debit Card का इस्तेमाल करके हम ATM Machine से पैसे निकल सकते है लेकिन Credit Card से नहीं क्योंकि यह Card सिर्फ Cashless Payment के लिए इस्तेमाल  मैं आता है। 


Conclusion-

मुझे उम्मीद है की आपको मेरी ये पोस्टDebit Card VS Credit Card- हिंदी मैं पूरी जानकारी? जरूर पसंद आई होगी। मेरी हमेशा से ही यही कोशिस रही है की Readers को Debit Card VS Credit Card- हिंदी मैं पूरी जानकारी, के बारे मैं पूरी से पूरी जानकारी मिले , जिससे की उन्हें किसी और site या कहि और जाकर ये प्र्शन न करना पड़े की आखिर Debit Card VS Credit Card- हिंदी मैं पूरी जानकारी, इससे उनके समय की बचत तो होगी ही होगी और वो घर बैठे हमसे कुछ भी या किसी चीज़ के बारे मैं भी जानकारी ले सकते हैं बिना संकोच के यदि आपके मन मैं Post को लेकर कोई भी Doubt है तो हमे बिना झिझक के Comment मैं बताये या फिर मेल करे निचे दिए गए Contact Us पर क्लिक करके-

तो मेरे मेहरबान कदरदान बुड्ढे बच्चे नौजवान आज हमने आपको बताया की  Debit Card VS Credit Card- हिंदी मैं पूरी जानकारी?

और  अगर आपका कोई सवाल जवाब या सुझाव हो तो हमे निचे Comment करके तो बताना ही बताना है-

तो दोस्तों अंत मै आपको पता ही होगा बस इतना ही कहना  चाहूंगा की 

तो दोस्तों अगर आपको ये Post  अच्छी लगी तो हमे जरूर Follow  करना और हमारी Notification को भी जरूर Allow करना।

Thank You For Visit Us